गिड़गिड़ाए नही, हाँ हम्दों सना से माँगी - मुनव्वर राना

गिड़गिड़ाए नही, हाँ हम्दों सना से माँगी
भीख भी हमने जो माँगी तो खुदा से माँगी

हाँथ बाँधे रहे, पलकों को झुकाए रक्खा
दाद भी हमने जो माँगी, हया से माँगी

ये भी उड़ जाए जो एक चिड़िया बँधी है घर में
इतनी मोहलत तो बहरहाल कज़ा से माँगी

हम तेरे एक इशारे पे लहू रंग देते
तूने ये क्या किया सुर्खी भी हिना से माँगी

तुम भी साबित हुए कमज़ोर मुनव्वर राना
जिंदगी माँगी भी तुमने तो दवा से माँगी

Favorite Posts